Uncategorized

Nisarg Panchagavya Soap

पंचगव्य साबुन कैसे यूज़ करें और उसके फायदे ☘️100 % का केमिकल फ्री साबुनसंपूर्ण नेचुरल साबुन ☘️त्वचा को नर्म और मुलायम रखता है त्वचा को पोषक तत्व की जरूरतों को पूर्ति करता है☘️साबुन से स्नान करने के बाद त्वसा रूखी रहती नहीं है☘️सर्दियों में इस साबुन का यूज करने के बाद आपको क्रीम लगाने की जरूरत नहीं रहेगीनिसर्ग पंचगव्य साबुन त्वचा के हर एक रोग को मिटाने का सामर्थ्य रखता है☘️ब्लड प्रेशर को भी नॉर्मल करता है☘️यह साबुन आंखों में लगने के बाद भी आंख को जलन नहीं होतायह साबुन…

Read More
wheat grass powder
Blog News Offer Shop Uncategorized

Wheat Grass Powder

Wheat Grass Powder
There is no disease that is all the nutrients of chlorophyll, damine, etc., from flames. Also known as natural pie, this is an invaluable herb.
Benefits
1. Purifies the blood.
2. Removes nothing of blood.
3. Asthma, permanent cold.
4. Digestion.
5. Ulcers in the stomach.
6. Diseases of the skin.
7. Kidney Diseases.
8. Sex-related diseases.
9. Premature ejaculation, thyroid.
Methods of use
1. Can be taken with water or with green juice.
2. Can be taken with bread, dal, vegetables, or any food item.
20 grams can be taken daily.
Hello 9099715545

Read More
Uncategorized

गुड़हल फूल औषधि HIBISCUS leaf

गुड़हल त्वचा के लिए खास / Hibiscus for Skin Lighteningगुड़हल से त्वचा के लिए ब्यूटीकेयर प्रसाधन बनाये जाते हैं। गुड़हल फूल और कोमल पत्तियों में एंटीसोलर, एंटीसेप्टिक गुण मौजूद हैं। गुड़हल पेस्ट त्वचा से रेडिएशन, झुर्रियां मिटाने में सक्षम है। गुड़हल नेचुरल हेयर कंडीशनर / Hibiscus Benefits for Hair Gudhalगुड़हल के फूल और पत्तियों का पेस्ट बालों पर लगाने से बाल नेचुरली काला करने, रूसी से निजात और जड़ से मजबूत बनाने में सहायक है। गुड़हल एक तरह से नेचुरल हेयर कंडीशनर है। बाल टूटने झड़ने की समस्या में गुड़हल…

Read More
Uncategorized

पपीता के पत्ते का पावडर क्या है

पपीता के पत्ते का पावडर क्‍या है – What is papaya leaf powder in Hindi हम सभी जानते हैं कि पपीता में औषधीय गुणों की अच्‍छी मात्रा होती है। पपीता  के यही सारे गुण पपीता की पत्तियों में भी होते हैं। पपीते की पत्‍ती का जूस कैरिका (Carica) या पपीता के पौधे की कोमल पत्तियों को पीसकर बनाया जाता है। इस रस का उपयोग त्‍वचा की एलर्जी, घावों, दाग धब्बे , बाल झड़ना , रूसी और फंगल बैक्‍टीरिया संबंधी संक्रमणों को दूर करने में मदद करता है। यह एक गाढ़ा और कड़वा अर्क होता…

Read More
Uncategorized

संजीवनी बूटी की तरह लाभदायी है गेहूं के जवारे

* संजीवनी बूटी की तरह लाभदायी है गेहूं के जवारेगेहूं के जवारे उनमें से ही प्रकृति की एक अनमोल देन है। प्रकृति ने हमें अनेक अनमोल नियामतें दी हैं।अनेक आहार शास्त्रियों ने इसे संजीवनी बूटी भी कहा है, क्योंकि ऐसा कोई रोग नहीं, जिसमें इसका सेवन लाभ नहीं देता हो।गेहूं के जवारों में अनेक अनमोल पोषक तत्व व रोग निवारक गुण पाए जाते हैं, जिससे इसे आहार नहीं वरन्‌ अमृत का दर्जा भी दिया जा सकता है। जवारों में सबसे प्रमुख तत्व क्लोरोफिल पाया जाता है। प्रसिद्ध आहार शास्त्री डॉ. बशर के अनुसार क्लोरोफिल (गेहूं के…

Read More
Uncategorized

prickly pear/ नागफनी /ફિન્ડલા

नागफनी एक ऐसा पौधा है जिसका तना पत्ते के सामान लेकिन गूदेदार होता है. जबकि इसकी पत्तियां काँटों के रूप में बदल गई होती हैं. इसे वज्रकंटका के नाम से भी जाना जाता है. यह एक कैक्टेस है जो सूखी बंजर जगह पर उगता है. इसके पौधे को बहुत ही कम पानी की आवाश्यकता होती है. यह पौधा सबसे पहले मैक्सिको में उगाया गया था है और अब यह भारत में भी बहुत आसानी से उपलब्ध है. नागफनी स्वाद में कड़वी और प्रकृति में बहुत उष्ण होती है. नागफनी में…

Read More
Uncategorized

Moringa leaf powder benefits

सहजन की पत्तियों के हैं कई औषधीय गुण, इस तरह करें खाने में इस्तेमाल  भोजन के रूप में उपयोग होने की अपेक्षा दवा के रूप में ड्रमस्टिक का उपयोग सबसे अधिक होता है। सहजन के जड़ में उत्कृष्ट पोषक तत्व पाये जाते हैं और इसमें फाइटोकेमिकल कंपाउंड एवं एल्केनॉयड पाया जाता है। हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को सहजन की पत्तियों का रस निकालकर काढ़ा बनाकर देने से लाभ मिलता है सहजन के पत्ते ही क्यों : जर्नल यूरोपीयन रिव्यु फॉर मेडिकल एंड फार्मकलाजिकल साइंस में प्रकाशित एक अध्ययन के…

Read More